Monday, December 25, 2006

"सप्ताह की नौटकीं"-उर्मिल कुमार थपलियाल जी की कलम से (दैनिक हिन्दु्स्तान से संकलित)

नौटंकी को स्पष्ट और बड़ा आकार देखने के लिए, तस्वीर पर क्लिक करें

3 comments:

उडन तश्तरी said...

आपको भी बडा दिन बडा मुबारक हो!! :)

priyankar said...

वाह क्या नौटंकी है. बहुत जोरदार और सामयिक राजनैतिक टिप्पणी है . इस टिप्पणी पर मेरी सौ टिप्पणियां कुर्बान .

divyabh aryan said...

accha laga aapka blog we hv a very similar blog templet that's unique.