Sunday, June 17, 2007

ऐसा मोबाईल देखा कभी !

5 comments:

आशीष said...

दोबारा काल आया क्या ?

Shrish said...

वाह मजेदार, लगता है प्रैस करने वाला ब्लॉगर था, ब्लॉगिंग के ख्यालों में खोया था। :)

mahashakti said...

खूब, पर समझ मे नही आया

Vivek Rastogi said...

बहुत अच्छे!!! ज्यादा मोबाईल का उपयोग करने पर ऐसा ही होता है |

deepanjali said...

जो हमे अच्छा लगे.
वो सबको पता चले.
ऎसा छोटासा प्रयास है.
हमारे इस प्रयास में.
आप भी शामिल हो जाइयॆ.
एक बार ब्लोग अड्डा में आके देखिये.